Friday, July 12, 2024

Latest Posts

जेसीज में “21वीं सदी का अभिनव एवं रचनात्मक शिक्षण अधिगम पद्धति” विषय पर कार्यशाला का आयोजन

जेसीज पब्लिक स्कूल रुद्रपुर में एक प्रेरक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला को लोकप्रिय लेखक, प्रेरक वक्ता, कुशल प्रशिक्षक, फिल्म निर्माता, अभिनेता एवं बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी श्री कुलप्रीत यादव ने संबोधित किया। यह कार्यशाला ” 21वीं सदी की अभिनव एवं रचनात्मक शिक्षण अधिगम पद्धति “विषय पर आधारित थी। इस कार्यशाला में श्री कुलप्रीत यादव ने शिक्षकों को शिक्षण में अभिनव एवं प्रयोगात्मक विधियों के क्रियान्वयन लिए प्रशिक्षित किया। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार वि‌द्यालयों शिक्षण में आवश्यक बदलाव के विषय में बताया। उन्होंने ज्ञान और कौशल में संतुलन बनाए रखने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रगतिशील शिक्षण, डिजिटल योग्यता, अभिनव प्रयोग, सामाजिक भावनात्मक शिक्षण आज के समय की आवश्यकता है।

विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री प्रवेश मेहरा ने विषय विशेषज्ञ श्री कुलप्रीत यादव सहित अतिथियों तथा आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि समय समय पर होने वाले परिवर्तनों एवं नवीन शिक्षण और अधिगम पद्धति की जानकारी होना आज की अनिवार्य आवश्यकता है। इस लिए ऐसे प्रासंगिक विषय पर कार्यशालाओं का आयोजन बहुत उपयोगी होता है।

इस कार्यशाला में विषय विशेषज्ञ श्री यादव ने रचनात्मक सोच, रचनात्मक लेखन, क्रियात्मक शिक्षण के लिए स्टोरी टैलिंग, तकनीक प्रेमी होना तथा मानसिक स्वास्थ्य कैसे बनाये रखें। इन सब क्षेत्रों पर शिक्षकों को प्रशिक्षित किया। उन्होंने कहा कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए निरंतर पुस्तकें पढ़ने की आदत और रचनात्मक लेखन को विद्यार्थियों में किस प्रकार विकसित किया जा सकता है, पर प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए, क्योंकि आगे बढ़ने के लिए भाषा कौशल बहुत आवश्यक है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि छोटे छोटे सकारात्मक प्रयास और बदलाव जीवन को सफल बनाने में मदद करतें हैं। उन्होंने सभागार में उपस्थित शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा के माध्यम से

समुचित आचरण कर समाज को सही दिशा देनी चाहिए। हम सब ऐसी नई पीढ़ी तैयार करें जो उत्कृष्टता से परिपूर्ण हो। अंत में उन्होंने

विद्यार्थियों को जीवन में आने वाली चुनौतियों से संबंधित शिक्षकों द्वारा पूछे गये विभिन्न प्रश्नों के उत्तर दिए।

जेसीज प्रबंधन समिति के महासचिव श्री सुरजीत सिंह ग्रोवर ने अपने संबोधन में कहा कि विद्यालय को उत्कृष्टता के अगले स्तर पर ले जाने और 21वीं सदी का विद्यालय बनाने के लिए प्रेरक वक्ताओं के विचारों को आत्मसात कर विद्यार्थियों की गुणवत्ता बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए।

अंत में विषय विशेषज्ञ श्री कुलप्रीत यादव जी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

दिल्ली पब्लिक स्कूल रुद्रपुर के प्रधानाचार्य श्री चेतन चौहन ने विषय विशेषज्ञ श्री यादव, तथा विद्वत परिषद का आभार व्यक्त किया। उन्होंने इस प्रेरक कार्यशाला के लिए प्रबंधन समिति का हार्दिक आभार व्यक्त किया ।

इस अवसर पर जेसीज पब्लिक स्कूल रुद्रपुर, डीपीएस रुद्रपुर तथा जेसीज फाऊंडेशन के शिक्षकों ने सहभागिता की और विचारों से लाभान्वित हुए।

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.