Saturday, July 13, 2024

Latest Posts

रिपोर्टर राजीव कुमार उधम सिंह नगर

रूद्रपुर। महानगर कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेस पार्टी का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। पार्टी के 139 वर्ष पूर्ण होने पर महानगर कांग्रेस अध्यक्ष सीपी शर्मा के नेतृत्व में कार्यालय पर पार्टी का झंडा फहराकर उसे सलामी दी ग। राष्ट्रीय गान गया एवं मिठाइयां बांटी गई। इस दौरान कांग्रेसजनों ने संगठन की मजबूती पर जोर दिया।

इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष सीपी शर्मा ने कहा कि 28 दिसंबर 1885 में आज के ही दिन कांग्रेस पार्टी की स्थापना हुई थी। वोमेश चन्द्र बनर्जी, दादाभाई नौरोजी, फिरोजशाह मेहता, लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक, महात्मागांधी, पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्भभाई पटेल, मौलाना आजाद, डॉ भीमराव आंबेडकर, सुभाषचंद्र बोस, लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी ने देश की आजादी की लड़ाई लडी। एक-एक ईट जो़ड़कर राष्ट्र का निर्माण किया। छोटी छोटी पांच सौ से ज्यादा रियासतों को मिलाकर एक राष्ट्र भारत बनाया। राजीव गांधी ने अपने काल से 30 साल आगे के भारत के भविष्य के लिए 21 वीं सदी का नारा दिया। इक्कीसवी सदी को कम्प्यूटर, संचार और इंटरनेट की सदी बनाने की नीव राजीव गांधी ने रखी। पार्टी के पदाधिकारियों ने समय-समय पर राष्ट्र की एकता व अखंडता को बनाए रखने के लिए अपने प्राणों की आहुतियां तक दी हैं, जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश के लिए आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्धता से काम कर रही पार्टी ने समाज के हर वर्ग के उत्थान के लिए योगदान दिया है।

श्री शर्मा ने कहा कि आजादी के पहले अंग्रेजों के खिलाफ एवं समाज में दबे कुचले और प्रशासनिक प्रताड़ना के शिकार लोगों की आवाज को बुलंद करने के लिए कांग्रेस की स्थापना की गई थी। कांग्रेस ने आगे चलकर आजादी के आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाई। कांग्रेस हमेशा से देश के बेसहारा एवं गरीब वंचितों के हित की लड़ाई लड़ती रही है। यही कारण रहा कि देश की जनता ने सबसे ज्यादा सेवा का मौका प्रदान किया। आज देश की सत्ता पर काबिज लोग संविधान की मूल आत्मा को कुचलने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता ऐसे मंसूबों को कामयाब नहीं होने देंगे।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय शंकर शुक्ला एवं पूर्व दर्जा राज्य मंत्री हरीश पनेरू ने कहा कि कांग्रेस का 138 वर्ष का गरिमामय इतिहास है। कांग्रेस पार्टी जब भी देश की सत्ता में आई तो देश के विकास के लिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पार्टी ने देश की आजादी और आजादी के बाद देश के नव निर्माण में बड़ी भूमिका निभाई है। कांग्रेस पार्टी जब भी देश की सत्ता में आई तो देश के विकास में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । कांग्रेसियों ने दशकों तक आजादी की लड़ाई लड़ी, जेल भी गए। पार्टी के पदाधिकारियों ने समय-समय पर राष्ट्र की एकता व अखंडता को बनाए रखने के लिए अपने जान तक की परवाह नहीं की, जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश के लिए आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्धता से काम कर रही पार्टी ने समाज के हर वर्ग के उत्थान के लिए योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि आज देश के सामने बड़ी चुनौती है, सत्ता में काबिज सरकार लोगों को बांटने का काम कर रही है। संविधान और लोकतंत्र को बचाए रखना आज सबसे बड़ा प्रश्न है और कांग्रेस पार्टी जिम्मेदारी के साथ अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रही है। पार्टी कार्यकर्ता हर बलिदान के लिए तैयार हैं।

इस दौरान कांग्रेस नेता गोपाल भसीन, बाबू अहमद मंसूरी, एमपी सरकनिया, निवर्तमान पार्षद मोहन खेड़ा, बनारसी दास, ममता रानी आदि ने भी अपने विचार रखे। इस अवसर पर हरेन्द्र पाल, सतीश कुमार, सुनील आर्या, मनेाज कुमार, हरपाल सिंह, रिक्की गुप्ता, नवीन सिंह, इमरान सैपफी, शुभम, राजेश कुमार, डीएस आर्या, रामस्वरूप भारती, मान सिंह, जमील अहमद, अनिल साहनी, शीला कक्कड़, विपुल विश्वास, उमा सरकार, रामकृष्ण सैनी,राधेश्याम, नवीन खेतवाल, विजयशंकर शुक्ला, शिवपद सरकार, रमेश बोरा, प्रेमपाल,अरविंद मामू ज्योति टम्टा, बाबू विश्वकर्मा, उमेश सिंह, रोहिताश पटेल, भूपेन्द्र कुमार, भूपेश सोनी, चन्द्रशेखर साहनी, नवाब अली, अर्जुन विश्वास, रंजन रंग, शुभम मेहरा, सुमन गंगवार, ईदरीश गोला, महावीर प्रसाद सरकैनिया, बाबू अहमद मंसूरी, बनारसी दास, सुरेश यादव, विजय शंकर शुक्ला, राम स्वरूप आदि समेत तमाम कांग्रेसी थे।

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.