Sunday, May 26, 2024

Latest Posts

रिपोर्टर राजीव कुमार उधम सिंह नगर

रुद्रपुर। लोकसभा चुनाव के पहले चरण की तारीख करीब आ रही है। संसदीय क्षेत्र नैनीताल-ऊधमसिंह नगर से भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है

उन्होंने हर मतदाता तक पहुंचने की कोशिश की, लेकिन जिन मतदाताओं तक वो नहींपहुंच पाए उनसे क्षमा मांगते हुए वादा किया कि चुनाव परिणाम आने के बाद वो उनसे अवश्य मिलेंगे। इस बीच अजय भट्ट ने कालाढूंगी विधानसभा में प्रचार के दौरान सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिला कल्याण पर सबसे ज्यादा ध्यान केेंद्रित किया है। यानी देश की आधी आबादी को 27 साल से लटके महिला आरक्षण बिल को लोकसभा और राज्यसभा में पारित कराकर कानून का रूप दिया। पीएन नरेंद्र मोदी ने महिला आरक्षण बिल को नारी शक्ति वंदन अधिनियम नाम दिया है। इस कानून के तहत लोकसभा और विधानसभाओं में महिला की भागीदारी 33 प्रतिशत हो जाएगी। यानी महिलाएं राजनीति में प्रवेश कर अपनी बात लोकसभा और विधानसभाओं में मुखर होकर उठा सकेेंगी। भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा महिलाओं के लिए बहुत सी कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। पहली बार मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा महिलाओं को आर्थिक रूप से सुदृढ़ करने के लिए उनकी आर्थिक रूप से मदद की जाती है। महिला समृद्धि योजना के अंतर्गत महिलाओं को 1.40 लाख रुपये तक का लोन आसानी से मिल जाता है। लोन पर महिलाओं को ब्याज पर छूट दी जाती है। इस योजना का लाभ ऐसी महिलाओं को दिया जाता है जो पिछड़े वर्ग से संबंधित हो या जिनकी सालाना आय तीन लाख रुपये से कम हो।
अजय भट्ट ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गर्भवती महिलाओं के लिए मातृ वंदना योजना लागू की है। इस योजना के तहत सरकार गर्भवती महिलाओं को 6,000 रुपये की आर्थिक मदद दे रही है। सरकार यह पैसा सीधे महिलाओं के बैंक खाते में भेजती है। सिर्फ पात्र महिलाओं को यह पैसा मिलता है। इस योजना की शुरुआत सरकार ने कुपोषित बच्चों के पैदा होने की समस्या को ध्यान में रखकर की है। सरकार 6000 रुपये बच्चों की देखभाल और बीमारी की रोकथाम के लिए इस्तेमाल करने के लिए देती है। इस योजना के लिए गर्भवती महिलाओं की आयु 19 साल से कम नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महिलाओं के लिए स्टैंडअप इंडिया योजना 5 अप्रैल 2016 को शुरू की गई। इस योजना का मकसद जमीनी स्तर पर उद्यमशीलता को बढ़ावा देकर आर्थिक सशक्तीकरण और रोजगार सृजन करना है। इस योजना का 2025 तक विस्तार किया जा चुका है। अपना कारोबार शुरू करने और विनिर्माण, सेवा और व्यापार क्षेत्र और कृषि से जुड़े उद्यम लगाने में अनुसूचित जाति, जनजाति और महिला उद्यमियों के समक्ष आने वाली चुनौतियों के समाधान के लिए यह योजना शुरू की गई थी। केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना महिलाओं के लिए 1 मई 2016 में शुरू की गई थी। इस योजना का मकसद चूल्हों में लकड़ी जला कर और कोयला जलाकर खाना बनाने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य को बेहतर बनाना था। यानी ग्रामीण और शहरी दोनों इलाके में रहने वाले बीपीएल परिवारों को इसका फायदा मिल सके। प्रधानमंत्री ने 22 जनवरी 2015 को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना शुरू की इस योजना का उद्देश्य बालिका लिंग अनुपात में कमी को रोकना और महिलाओं के सशक्त बनाना रहा है। भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि देश में जो भी महिलाएं सिलाई-कढ़ाई में रूचि रखती हैं उनके लिए केंद्र की मोदी सरकार ने मुफ्त सिलाई मशीन योजना की शुरूआत की है। इस योजना का लाभ देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों की आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को मिल रहा है। भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने कहा कि महिलाओं के कल्याण के लिए शुरू की गई योजनाओं से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं। जो एक-एक रुपये के लिए परिवार पर निर्भर रहती थी वो आज अपना कारोबार कर रही हैं। इसलिए देश की आधी आबादी का आशीर्वाद पीएम मोदी को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भविष्य में इतिहास के पन्नों में ही पढ़ी जाएगी, क्योंकि देश को लूटने वालों देश की जनता अब कभी सत्ता नहींदेने वाली है। इसलिए मतदाता अपना मत भाजपा के पक्ष में करें और राष्ट्र निर्माण का हिस्सा बनें। इस दौरान उनके साथ मुख्य रूप से विधायक एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत, भाजपा प्रदेश महामंत्री राजेंद्र सिंह जिला अध्यक्ष प्रताप सिंह बिष्ट , वरिष्ठ भाजपा नेता महेश शर्मा, अलका जोशी, हेमा बिष्ट शाहिद सैकड़ो लोग मौजूद थे

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.