Friday, April 19, 2024

Latest Posts

रूद्रपुर ।शुक्रवार को भारत-नेपाल सीमा समन्वय समिति की बैठक यूआईआरडीए सभागार में सम्पन्न हुई। जिसमें नेपाल के जनपद कंचनपुर तथा कैलाई व भारत के ऊधम सिंह नगर, चम्पावत, पीलीभीत तथा लखीमपुरखीरी के आला अफसरों द्वारा प्रतिभाग किया गया। नेपाल के अधिकारियों के यूआईआरडीए पहुॅचने पर जिला प्रशासन ने गार्ड ऑफ ऑनर देने के साथ ही पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया तथा स्थानीय हस्तशिल्प उत्पाद भेट किये।

बैठक की शुरूआत दोनों देशों के राष्ट्रीय गान से शुरू हुई। बैठक में 17 बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की गई।

बैठक में जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त तथा मुख्य जिलाधिकारी कंचनपुर गोपाल प्रसाद आर्यल ने कहा कि भारत-नेपाल के मित्रता संबंध ऐतिहासिक व सकारात्मक रहें है तथा बहुत घनिष्ठ बने हुएं है। उन्होंने कहा कि संबंधों को और अधिक प्रगाढ़ करने के लिए दोनो देशों की सीमावर्ती जिलों के अधिकारियों को आपस में काम करना होगा। उन्होंने कहा कि शांति एवं सुरक्षा के लिए दोनो तरफ से काम किया जाना बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि दोनो राष्ट्रों के बीच बेहतर समन्वय बनाए रखने के लिए संवाद गतिविधियों का मजबूत बना रहना अति आवश्यक है।

बैठक में जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने कहा कि दोनो देशों की सीमा क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों में आपसी प्रेम, सद्भाव तथा सौहार्द बना रहे और आवागमन सरल व सुलभ हो। उन्होंने कहा कि नेपाल राष्ट्र के 20 नवम्बर को होने वाले संसदीय चुनाव के दौरान भी कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने में हर संभव मदद की जायेगी। उन्होंने कहा कि दोनो देशों में कानून एवं शान्ति व्यवस्था तथा नेपाल में इलेक्शन को देखते हुए दोनो राष्ट्रों की पुलिस, एसएसबी, एवं प्रशासन के बीच एक बेहतर समन्वय होना बहुत जरूरी है।

बैठक में निर्णय लिया गया कि मतदान समाप्ति से 72 घण्टे पूर्व भारत-नेपाल सीमा को सील किया जाएगा। दोनों राष्ट्रों में कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए मानव तस्करों, ड्रग्स एवं मादक पदार्थ तस्करों, वन एवं वन्य जीव तस्करों अवैध गतिविधियों में शामिल व्यक्तियों की सूची आपस में साझा की जायगी तथा संदिग्ध व्यक्तियों पर संयुक्त रूप से पैनी नज़र रखी जायेगी। सूचनाओं के तेजी से आदान प्रदान हेतु व्हाट्सअप ग्रुप बनाया जायेगा, उच्चाधिकारियों के साथ ही निचले स्तर के अधिकारी भी आपसी समन्वय से कार्य करेंगे। भारत-नेपाल सीमा पर मिसिंग प्लरों का संयुक्त सर्वे किया जायेगा। नेपाल के कंचनपुर एवं कैलाली में पोस्टल हाईवे को पूरा करने में नियमानुसार हर संभव मदद की जायेगी।

इसके साथ ही भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा, नो मैन्स लैण्ड पर अतिक्रमण, कस्टम, खाद तथा अन्य उत्पादों की तस्करी, जाली नोटो के प्रवाह एवं तस्करी, वाहनों की तस्करी, जन सामान्य की आवाजी, कानून व्यवस्था, वीवीआईपी तथा गणमान्य व्यक्तियों के दौरे आदि के बारे में विस्तार से चर्चा की गई।

बैठक का संचालन मुख्य विकास अधिकारी विशाल मिश्रा ने किया।

बैठक में एसएसपी मंजूनाथ टीसी, मुख्य विकास अधिकारी विशाल मिश्रा, कमानडेन्ट एसएसबी अनिल कुमार, अपर जिलाधिकारी चम्पावत हेमन्त कुमार वर्मा, एडीएम पीलीभीत सूरज यादव, अपर जिलाधिकारी यूएसएन जय भारत सिंह, उप जिलाधिकारी लखीमपुर खीरी कार्तिकेय सिंह, नेपाल की ओर से मुख्य जिलाधिकारी कंचनपुर गोपाल प्रसाद आर्यल, मुख्य जिलाधिकारी कैलाली किरन थापा, सीएसओ सुदर्शन सिंह, एसीडीओ अशोक कुमार भण्डारी, एसपी श्याम सिंह चौधरी, अम्मार बहादुर, सामेन्द्र सिंह राठौर, धन बहादुर सिंह, डीआईडी पवन जोशी, चीफ कस्टम ऑफीसर धुरबाराज बीके, राजेन्द्र कुमार हमाल अलावा स्थानीय स्तर से उप जिलाधिकारी प्रत्यूष सिंह, एसपी सिटी मनोज कत्याल आदि उपस्थित थे।

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.