Tuesday, June 18, 2024

Latest Posts

अफगानिस्तान बदख्शां यूनिवर्सिटी के बाहर बुर्का का विरोध कर रही लड़कियों पर तालिबान के अफसर ने कोड़े बरसाए। यह घटना रविवार की है, लेकिन वीडियो अब वायरल हो रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, लड़कियां भाग रही हैं और तालिबानी उनका पीछा करते हुए कोड़े बरसा रहा है।

राइट टु एजुकेशन को लेकर प्रोटेस्ट कर रही है लड़कियां
पूर्वी अफगानिस्तान के बदख्शां यूनिवर्सिटी में यह विवाद 30 अक्टूबर को शुरू हुआ था, जब प्रशासन ने बुर्का पहनकर नहीं आने वाली लड़कियों को क्लास रूम से वापस जाने के लिए कहा था। लड़कियों ने इसके बाद राइट टु एजुकेशन को लेकर प्रोटेस्ट शुरू कर दिया।

फरवरी में मिली थी लड़कियों को यूनिवर्सिटी में एंट्री
15 अगस्त 2021 को तालिबान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा कर लिया था। मई 2021 में अमेरिकी सैनिकों के जाने के बाद तालिबान को 20 साल बाद दोबारा काबुल की सत्ता मिली थी। तालिबान के सत्ता में आने के बाद लड़कियों के कॉलेज जाने पर रोक लगाई गई। हालांकि, फरवरी 2022 में नियमों के साथ लड़कियों को कॉलेज में एंट्री देने पर सरकार राजी हो गई।

मई में जारी हुआ था महिलाओं को बुर्का पहनने का आदेश
मई में तालिबान सरकार ने एक फरमान में कहा था कि महिलाओं को अब सार्वजनिक जगहों पर बुर्का पहनना ही होगा। अगर महिला ने घर से बाहर अपना चेहरा नहीं ढंका तो, उसके पिता या सबसे नजदीकी पुरुष रिश्तेदार को जेल में डाल दिया जाएगा। अगर कोई सरकारी नौकरी में हैं तो उस पर कार्रवाई होगी और नौकरी से निकाला भी जा सकता है।

तालिबानी नेता का  इंटरव्यू: महिलाओं को मानना होगा इस्लाम का कानून

काबुल पर कब्जा से पहले तालिबानी प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद से दैनिक भास्कर ने एक्सक्लूसिव बातचीत की थी। मुजाहिद ने तालिबानी सरकार में महिलाओं की आजादी को लेकर कहा था- हम इस्लाम में महिलाओं और पुरुषों को दिए गए अधिकारों का सम्मान करते हैं। जो अधिकार इस्लाम ने महिलाओं को दिए हैं वो उन्हें दिए जाएंगे। मुजाहिद वर्तमान सरकार में राज्य मंत्री हैं।

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.