Thursday, February 22, 2024

Latest Posts

Jugnu khan काशीपुर। जिलाधिकारी द्वारा जनपदभर में पुराल जलाने पर प्रतिबंध लगाने से आक्रोशित भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने एसडीएम कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन कर पुराल जलाने के आदेश वापस लेने की मांग करते हुए एसडीएम के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में किसानों ने कहा कि जब तक खेत से पराली नहीं हटाई जाती तब तक गेहूं बोने के लिए जमीन तैयार नहीं होगी। जिले के किसानों के पास ऐसे साधन नहीं है जिससे धान की पुराल को जमीन में दबाया जा सके। मांग उठाई कि किसानों को पुराल इकट्ठा करवाने के लिए प्रति एकड़ उचित मुआवजा दिया जाये। किसानों को 80 प्रतिशत अनुदान पर यंत्र व रोलर दिये जाये जिससे पुराल नष्ट की जा सके। गेहूं बोने के लिए सुपर सीडर व बड़े ट्रैक्टर 80 प्रतिशत अनुदार पर दिये जायें। यदि उक्त मांगे नहीं मानी जाती है तो जिलाधिकारी कोअपना आदेश वापस लेना चाहिए। यदि उनकी मांगे नहीं मानी गई तो किसान यूनियन आंदोलन का वाध्य होगी। प्रदर्शन करने वालों में जितेन्द्रसिंह जीतू, कश्मीर सिंह, राजन सिंह, मुलख सिंह, सुखवीर सिंह, सुखदेव सिंह, प्रीतम सिंह, लवप्रीत सिंह, सतविंदर सिंह, कुलविंदर सिंह, बलवीर सिंह, गुरमीत सिंह समेत दर्जनों किसान थे।

About The Author

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.