21.9 C
Munich
Saturday, May 21, 2022

उच्च न्यायालय ने खाद्यान्न घोटाले में सरकार को दिया नोटिस 4 हफ्ते में देंगे जवाब

Must read

पढ़िए..खून में लथपथ सनी मिली युवक की लाश ,देखकर हैरान फैली सनसनी

जुगनू खान, सवांददाता।।खूनी में लथपथ मिली युवक की लाश ,देखकर हैरान फैली सनसनी   काशीपुर। एक युवक की खून से सनी लाश आधी रात को प्लाट...

पढ़िये…रुद्रपुर में हुए सद्दाम के मर्डर का पुलिस ने किया पर्दाफाश,यह आरोपी गिरफ्तार

पुलिस को मिली बड़ी सफलता     रुद्रपुर।पिछले दिन हुई हत्या का पुलिस ने आज किया खुलासा तहरीर देने वाले नबी अहमद पुत्र अली अहमद निवासी वार्ड...

आप भी पढ़िए और देखिए अद्भुत तरीके का दिखने वाला उल्लू इस जगह मिला

दुर्लभ प्रजाति का बार्न उल्लू दिनेशपुर । शनिवार को थाना पुलिस को घायलावस्था में एक दुर्लभ प्रजाति का बार्न उल्लू मिला । थानाध्यक्ष विनोद जोशी...

पढ़िए…218 किलोग्राम हिरोइन पकड़ी राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) और भारतीय तटरक्षक (आईसीजी) ने लक्षद्वीप के तट से दूर बीच समुद्र में छापा मार की...

नेशनल न्यूज नेटवर्क दिल्ली ।ल्रगातार कई महीनों तक विशिष्ट खुफिया जानकारी हासिल कर लेने के बाद राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने यह पक्‍का अनुमान लगा...

उच्च न्यायालय ने खाद्यान्न घोटाले में सरकार को दिया नोटिस 4 हफ्ते में देंगे जवाब

रुद्रपुर। भाईचारा एकता मंच द्वारा खाद्यान्न घोटाले में लिप्त अधिकारियों व कर्मचारियों की जांच व कार्रवाई की मांग को लेकर माननीय उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की गई थी ।याचिका में सुनवाई के बाद माननीय न्यायालय ने केंद्र व राज्य सरकार को नोटिस जारी कर 4 हफ्ते में जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है उल्लेखनीय है कि उधम सिंह नगर के पूर्ति निरीक्षकों द्वारा राशन कार्ड का फेरबदल कर करोड़ों रुपए का खाद्यान्न गबन कर लिया गया बिना नियम के हजारों राशन कार्ड रातों-रात पीले से सफेद कर दिए और लोगों को इसकी जानकारी भी नहीं है लोगों को पीले राशन कार्ड का ही राशन दिया जाता रहा और सरकार से सफेद राशन कार्ड का राशन उठाकर पूर्ति निरीक्षक व राशन डिपो संचालक गबन करते रहे इसके अलावा पूर्ति निरीक्षकों द्वारा कई अन्य तरह से भी सरकारी राशन में घोटाला कर करोड़ों रुपए की संपत्ति अर्जित की गई है जिसको लेकर भाईचारा एकता मंच के केंद्रीय अध्यक्ष केपी गंगवार ने शासन प्रशासन को पत्र लिखकर कई बार जांच व कार्रवाई की मांग की परंतु शासन प्रशासन द्वारा अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई जिसके बाद केपी गंगवार द्वारा माननीय उच्च न्यायालय की शरण लेते हुए न्यायालय में पूरे उत्तराखंड में हुए खाद्यान्न घोटाले की जांच व कार्रवाई की मांग को लेकर जनहित याचिका 67/22 दाखिल की गई है जिस पर माननीय उच्च न्यायालय ने सुनवाई के बाद केंद्र व राज्य सरकार को नोटिस जारी कर 4 हफ्ते में जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है मामले की अगली सुनवाई के लिए 22 जून की तिथि निर्धारित की गई है

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

पढ़िए..खून में लथपथ सनी मिली युवक की लाश ,देखकर हैरान फैली सनसनी

जुगनू खान, सवांददाता।।खूनी में लथपथ मिली युवक की लाश ,देखकर हैरान फैली सनसनी   काशीपुर। एक युवक की खून से सनी लाश आधी रात को प्लाट...

पढ़िये…रुद्रपुर में हुए सद्दाम के मर्डर का पुलिस ने किया पर्दाफाश,यह आरोपी गिरफ्तार

पुलिस को मिली बड़ी सफलता     रुद्रपुर।पिछले दिन हुई हत्या का पुलिस ने आज किया खुलासा तहरीर देने वाले नबी अहमद पुत्र अली अहमद निवासी वार्ड...

आप भी पढ़िए और देखिए अद्भुत तरीके का दिखने वाला उल्लू इस जगह मिला

दुर्लभ प्रजाति का बार्न उल्लू दिनेशपुर । शनिवार को थाना पुलिस को घायलावस्था में एक दुर्लभ प्रजाति का बार्न उल्लू मिला । थानाध्यक्ष विनोद जोशी...

पढ़िए…218 किलोग्राम हिरोइन पकड़ी राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) और भारतीय तटरक्षक (आईसीजी) ने लक्षद्वीप के तट से दूर बीच समुद्र में छापा मार की...

नेशनल न्यूज नेटवर्क दिल्ली ।ल्रगातार कई महीनों तक विशिष्ट खुफिया जानकारी हासिल कर लेने के बाद राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने यह पक्‍का अनुमान लगा...

जिले में सीएमओ रही डीजी हेल्थ पहुंची रुद्रपुर किया अस्पताल का रुख मिली यह खामियां दिए यह निर्देश

रुद्रपुर उधम सिंह नगर । स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. शैलेजा भट्ट आज रुद्रपुर जिला चिकित्सालय पहुंची। जहां उन्होंने अस्पताल परिसर का औचक निरीक्षण किया। इस...